loading...

"मेरे लिए मेरी माँ ने करवाचौथ का ब्रत किया"

Antarvasna sex stories, desi kahani, hindi sex stories, chudai ki kahani, sex kahani
डिअर अन्तर्वासना पोर्न स्टोरीज डॉट कॉम रीडर आपके जैसा मैं भी इस वेबसाइट का रेगुलर विजिटर हुँँ| क्यों की जिसको जिस दिन छूट का या लैंड का इंतज़ाम नहीं हुँँआ है वो यहाँ आकर ही कहनें पढ़ते पढ़ते मूठ मार लेता है या तो चूत रगड़ लेता है| पर आज मैं आपको भी लैंड को हिलानें के लिए मजबूर कर दूंगा क्यों की मैं आज आपको बड़ी ही हॉट और सेक्सी कहानी बतानें बाल हुँँ| थोड़ा अटपटा तो लगेगा| क्यों की ये मेरी माँ के बारे में है| क्या कोई अपनी माँ को चोद सकता है? हां मैं आजकल अपनें माँ को चोदता हुँँ|

मैं सीधे कहानी पर आता हुँँ| मेरा नाम ओम है मे 24 साल का हुँँ मेरे घर मे मैं ओर मेरी मा दोनो ही रहते है| पिताजी का देहांत हुँँए २० साल ही हो गया है| मेरा रंग काला | हाइट ६ फीट| लंड ७ इंच है| मेरी मा बहुँत ही सुन्दर है| उसका रंग गोरा| साइज़ 36-34-36 है बहुँत ही सेक्सी लगती है पास के लोग तो मेरी मा को देख के मूठ मारते है| मैं भी मा के नाम मूठ मारता हुँ|
ये कहानी 1 साल पुरानी है मेरी मा का उम्र 36 साल है उनकी शादी जल्दी हुँँई थी| जैसे कि मे ओर मा घर मे अकेले रहते हे| मैं एक जिम ट्रेनर हुँँ| रोज जिम जाता हुँ ओर मा हाउसवाइफ है| जिम में भी काफी हॉट और सेक्सी लड़की आती है पर जो माल माँ है वो कोई नहीं यारा| गजब ढाती है| साली ज़िंदगी ही बदल गयी है मेरी| इतनी हॉट और सेक्सी हे कह नहीं सकता|

एक दिन जब मे छुट्टी पे था घर पर बोर हो रहा था तभी मा नें पुकारा…. ओम ज़रा मुझे तौलिया देना मे भूल गयी हुँँ| मा नहा रही थी मैं तौलिया देनें गया की अचानक मा चिल्लाते हुँँए बाहर आई मा पूरी नंगी थी वा क्या नज़ारा था उसका क्लीन शेव| बॉल देख के पागल हो गया वो भागते हुँँए तौलिये के पास रुक गई जब वो मुझे देखी तो अपनें अप को छुपानें की कोशिस कर रही थी में तौलिया दे के पूछा क्या हुँँआ? मा बोली अंडर छिपकली है मैनें हसके कहा छिपकली से क्या डरना ओर मा फिर वो तौलिया लपेटते हुँँए अंदर चली गई|

loading...

मैं मन ही मन खुस हुँँआ ओर छिपकली को धन्यवाद कहा| उस वक्त मैनें मा को चोदनें की ठान ली क्यों की उनके नंगी शरीर को जब देखा रहा नहीं जा रहा था| दोपहर को खाना खानें के बाद मा सोनें चली गई| मा जब गहरी नींद में थी मे अंदर गया ओर मा को ऊपर से निहारनें लगा| क्या लग रही थी| में धीरे से उसकी साइड मे जा के सोनें लगा ओर अपना हाथ मा की गांड पे रख दिया मेरा लंड खड़ा हो गया ओर में धीरे धीरे गांड को सहलानें लगा तभी मा मेरे तरफ मूड गयी में घबरा गया ओर जा के बातरूम में मूठ मारनें लगा लंड पे थूक लगा के|

रात को खाना खानें के बाद हम दोनो टीवी देखनें लगे उसपे सनी लेओनी का प्रचार आया कॉंडम का मे उत्तेजित हुँँआ मा और में बाते कर सोनें चले गये मा सो गयी| मुझे नींद नही आ आ रही थी मे उठा ओर मा के बगल सोनें लगा| में मा के गांद पर हाथ रख दिया ओर सहलानें लगा फिर हाथ आगे बढ़ाते हुँँए पेट पर रख दिया ओर धीरे धीरे बूब तक आया मा सो रही थी

में धीरे धीरे बूब दबानें लगा में डर भी रहा था मा के निपल टाइट हुँँए शायद मा सोनें का नाटक कर रही थी| मे दबाते दबाते लॅंड हिला रहा था की मा जाग गयी ओर मुझे ज़ोर से धक्का दिया मे दूर हो गया| मा बोली ये क्या करा रहा हे तू नालयक मे तेरी मा हुँ ओर ये पाप है मे डर गया फिर भी कोशिस कर बोल पड़ा क्या पाप मा तू एक औरत है ओर मैं मर्द कुछ ग़लत नही है कहकर मे सीधे मा को एक लीप किस कर दिया मा पागल हो गयी पर वो एक धक्का लगा दी और बोली जा अलग हो जा| मैं ऐसा वैसा कुछ भी नहीं करुँगी|
फिर भी मे नही रुका ओर मा की साडी ऊपर करके उस मे उंगली डाल दी ओर एक किस करनें लगा थोड़ी देर बाद मा भी मन गयी ओर मेरा साथ देनें लगी वो वो अपना चूच दब्बानें लगी और किश करनें लगी| मैं भी सटा सट उनके चूत में ऊँगली डाल रहा था और वो एक लम्बी सास ली अंगड़ाई ली और झड़ गयी फिर भी मे उंगली चूत से नही निकली| फिर मे मा की साडी उतारी ओर मा को नंगा कर दिया मा के बॉल चूस्ते चूस्ते चूत मे उंगली डाल रहा था मा को बहुँँत मज़ा आ आ रहा था वो सिसकिया ले रही थी आ आ आ आ आ आहा आ मादरचोद चोद अपनी मा को बुझा दे आग को 20 साल से प्यासी हुँ आज बुझा दे मेरी प्यास मैं चुदना चाह रही हुँँ| आज फाड़ दे मेरी चूत| मैं और सह नहीं सकती| आआह आआअह आआह ओह्ह्ह्ह्ह ओह्ह्ह्ह्ह|
फिर मे अपनी पेंट उतारी ओर अपना 7इंच का लंड मा के मूह मे दिया मा भी उसे बड़े प्यार से चूसनें लगी| मूह म्ह आह आह आह आह आह आहा क्या मस्त लंड है तेरा तेरे बाप से भी बड़ा ओर पूरे दस मिनट तक मेरा लंड चुस्ती रही फिर में अपनें घुटनो के बल आ के मा की चूत चाटनें लगा मा सिसकारिया भर रही थी आह आ ह ह…. ह आह आह आह आ ब बस कर छोड़ दे इस मा को अब ना तड़पा इस में वो दो बार झड़ गयी में सारा पानी पी गया

फिर मे अपना लंड मा की चूत पे रगड़ते हुँँए घुसा दिया अंदर मा की चूत में मा चिल्ला पड़ी आहा…. मर गई…. मे अंदर बाहर करता गया ओर 20 मीं बाद झड़ गया में नें आपना माल मा की चूत मे छोड़ दिया ओर मा के साथ लेट गया उस रात चार बार अपनी मा को चोदा| दूसरे दिन हम लेट उठे ओर साथ में नहाए| उसके बाद हम दोनो नें नाश्ता किया ओर फिर से मैं मा के चूच दबानें लगा मा बोली रत को करते है बेटा थोड़ा सबर करो ओर मुज़े एक लीप किस किया में नही माना ओर मा की साडी खिच कर निकल दी
वो अब सिर्फ़ ब्लाउस ओर पेंटी पे थी वो नही मान रही थी मा अपना कम वैसे ही चालू रखा मुझे गुस्सा आया मे मा को पीछे से ही पकड़ का मेरा लॅंड मा की चूत मे डालनें लगा ओर चूच ज़ोर ज़ोर से दबानें लगा फिर थोड़ी देर बाद मे मा को उठा कर बेडरूम में बेड की उपर फेक दिया वो सेक्सी मूड मे आ गयी ओर बोली मेरे राजा कितनें उतावले हो तुम थोड़ा भी रोक नही सकते अपनें अप को फिर मुज़े अपनी तरफ खिच कर मेरा लंड अपनें मूँह मे ले कर चूसनें लगी मुहन मुहन म्ह हास 20 मीं तक मा मेरा लंड चुस्ती रही| मेरा तन बदन सिहर रहा था मैं माँ के बाल पकड़ रखे थे और वो आह आअह चपड़ चपड़ कर मेरा लंड चाट रही थी| आप ये कहानी अन्तर्वासना पोर्न स्टोरीज डॉट कॉम पे पढ़ रहे है|
फिर में झड़ गया मा की मूह में मा नें मेरा पूरा मा पिया फिर मा बोली ओम आज से तू मेरा पति है और मेरे पैर छू लिए| 
फिर बोली मैं तुम्हारे लिए करवा चौथ का वर्त रखूंगी| जैसा की काजोल नें दिलवाले दुल्हनिया ले जायेंगे में रखी थी| में नें भी मा को उठाते हुँँए कहा हा मे आज से तेरा पति ओर तू मेरी पत्नी उठो मेरी रानी फिर आधे घंटे बाद फिर मेरा खड़ा हुँँआ | दोपहर मंदिर जा के हमनें शादी कर ली ओर अब हम दोनो पति पत्नी है हम अब दूसरे शहर में है जहा हमे कोई नही पहचानता है

Add a Comment

Your email address will not be published.

loading...