loading...

"माँ की सिपारिस पर मौसी की चुदाई की"

हैंल्लो दोस्तों 

जैसे की आप लोग जानते हो की मेरा नाम मुकेश सिन्हा हैं और मैं जम्मू का रहने वाला हु. आप लोग यह भी जानते हो की मैं अक्सर अपनी माँ की चुदाई करता हु। लेकिन यह बात कुछ अलग हैं. आपको मेरी कहानी पसंद आये तो मुझे मेल जरुर करना।
यह बात जून की हैं. गरमी काफी थी और मैं टीवी देख रहा था और माँ किचन मैं थी. मैंने  माँ को आवाज दी तो माँ बोली की नाही यार. मेरी तबियत ठीक नहीं हैं। शायद माँ को लगा था की मैं उसे चुदाई के लिए बुला रहा हु। मैंने  वापस जवाब दिया की मुझे अकेले अच्छा नहीं लग रहा तुम यहाँ पर आ जाओ साथ मैं चुदाई नहीं लेकिन टीवी देखेंगे।
तो माँ बोली की ओके. 7 मिनिट रुक और फिर माँ आ गयी तो वह फोन पर बात कर रही थी। फिर मैंने  पुछा की कौन हैं तो माँ ने कहा की मेरे यार से बात कर रही हु। एमने पूछा की क्या कह रहा था? तो वह हंस के बोली की अरे पगले तुम्हारी मौसी हैं. दोस्तों मेरी मौसी का नाम अनीता हैं और उसकी शादी 7 महीने पहले हुई हैं।
वह बहुत अच्छी हैं और मैं उसे बुरी नजर से नहीं देखता था। मैंने  भी मौसी के साथ बात की और तभी मुझे लगा की वह कुछ उदास हैं. मैंने  पूछा तो मौसी ने बताया की नहीं यार मैं ठीक हु। पर उसने दोबारा माँ से बात की और फिर फोन कट कर दिया। मैं सोफे पर लेट गया और अपना सर माँ की गोद मैं रख दिया।

मैंने  माँ से पूछा की मौसी उदास क्यों हैं? और यह पूछते मैंने  माँ का बूब्स दबाया। माँ ने कहा नहीं ऐसी कोई बात नहीं हैं. मैंने  कहा की मुझे किस करो तो माँ मुझे किस करने लगी।

मैंने  माँ से पूछा की बाथ मैं प्रेग्नंट टेस्ट किट किसका था? तो माँ ने कहा की मैंने  टेस्ट किया था. मैंने  पूछा क्यों? तो माँ बोली की कल रात तेरे पापा के दोस्त ने मेरी चुदाई की और हँसने लगी। फिर माँ ने कहा की मैंने  यह टेस्ट इसलिए किया हैं की तुमने मुझे फिर से प्रेग्नंट तो नहीं कर दिया ना लेकिन वह निगेटिव आया हैं।

फिर माँ ने कहा की मुकेश तुम्हारी अनीता मौसी को एक प्रॉब्लम हैं। मैंने  कहा क्या? तो बोली की तुम्हारी मौसी 7 महीने से प्रेग्नंट नहीं हो रही हैं. मैंने   उसको कहा की मौसी मैं तो कोई प्प्रॉब्लम नहीं हैं क्योंकि वह तो शादी से पहले एक बार प्रेग्नंट हो चुकी हैं।

हां पर हम तो टेस्ट नहीं कर सकते ना? की किस मैं प्रॉब्लम हैं।। तेरी मौसी मैं या उसके पति मैं।

फिर मैंने  कहा मी मैं कल मौसी के घर जाऊँगा तो उसने कहा की नहीं वह तो मम्मी के घर पर हैं. तो मैंने  कहा की क्यों? तो माँ बोली की उसके मायके वालो ने कहा की यह बच्चे को जन्म नहीं दे सकती हैं हम उसका क्या करेंगे?

मैंने  माँ से कहा की यह तो बड़ी प्रॉब्लम हैं। माँ ने कहा हां प्रॉब्लम तो हैं. पर उसका सोल्यूशन भी हैं. मैंने  पूछा क्या? तो माँ ने कहा की अगर तुम्हारी मौसी को कोई प्रेग्नंट कर दे तो बात बन सकती हैं।

फिर माँ ने कहा की इस मैं भी एक प्रॉब्लम हैं. तो मैंने  पूछा क्या? तो वह बोली की उसे प्रेग्नंट करने वाला तुम्हारी मौसी को ब्लेकमेल भी कर सकता हैं।
मैंने  बहुत जोर लगा कर पूछा तो माँ ने बताया की मौसी का पति नामर्द हैं। तो मैंने  कहा की फिर वह तलाक क्यों नहीं ले लेति हैं? तो माँ ने कहा की वह उसे बहुत प्यार करती हैं और छोड़ नहीं सकती।
दरसल वह बहुत अमीर था. मैंने  पूछा की वह सेक्स के बिना कैसे रह सकती हैं? तो बोली की उसकी कोई जरुरत नहीं हैं। मैंने  पूछा क्यों उसे चोदने वाला कोई मिल गया हैं क्या? तो माँ ने कहा की हां। तो मैंने  कहा कौन? तो उसने मुस्कुराते मेरी तरफ इशारा किया।
मैंने  मन मैं तो लड्डू फूटने लगे लेकिन मैंने  कहा की मैं ऐसा कैसे कर सकता हु. वह तो मेरी मौसी हैं। तो वो बोली की अरे साले अपनी माँ को चोद सकता हैं तो अपनी मौसी को क्यों नहीं?
मैंने  कहा लेकिन तो उसने मेरी बात काट दी। और कहा की लेकिन वेकिन कुछ नहीं. वह आज आ रही हैं ३ दिनों के लिए और उसको यहाँ से प्रेग्नंट करके ही वापस छोड़ देना। मैंने  माँ से पूछा की तुमने उसे कह दिया तो माँ ने कहा हां।

फिर माँ ने मुज से कहा की तुम बाजार जाओ और वहा से मेरे लिए एक नाईटी ले आओ. मैं फिर घर से ५ बजे निकला और एक शोरुम चला गया. और एक ब्लेक कलर की पेंटी खरीद लाया और फिर अपने दोस्त के पास चला गया।

मेरी मौसी भी बहुत सेक्सी हैं उमर 22 हैं और उसके बूब्स बहुत बड़े हैं. वहा पर मैंने  दोस्त से बात की और एक मूवी देखि। फिर मैं वहा से 2 बजे निकला और अपने घर आ पहुचा।

जब मैं घर पंहुचा तो वहा मैंने  देखा की मौसी आई हुई थी और वो माँ से बाते कर रही थी. जब उसने मुज को देखा तो उसने हलकी सी स्माइल दे दी और मैंने  भी स्माइल का जवाब दिया और माँ के पास बैठ गया।

loading...

मैंने  मौसी से पूछा की आप कब आई? तो उसने कहा की 7 बजे. फिर हम खाना खाने चले गये और और फिर मैं टीवी देखने लगा। माँ और मौसी आपस मैं बाते कर रही थी।

20मिनिट बाद माँ और मौसी रूम मैं चली गयी और मैं वही पर रुका था। 22 मिनिट बाद माँ मेरे पास आई और बोली की जल्दी अपने कमरे मैं जाना वह वही सो रही हैं. मैंने  माँ से कहा ओके और बोला और वह अपने रूम मैं चली गयी।

मैं टीवी देख रहा था और पता ही नहीं चला की कब 11 बज गये. मैंने  टीवी बंद किया और रूम मैं चला गया तो देखा की मौसी नींद मैं थी और उसने पिंक कलर की नाईटी पहन रखी थी. मैंने  जा के उसके पास लेट गया और उसके चहरे को देखने लगा।

फिर मैंने  उसके चेहरे पर हाथ रखा और प्यार करने लगा। मुझे बुहत मजा आ रहा था इसी बिच वह जाग गयी और उसने मुझे कहा की तुम प्यार करोगे ना? मेरा पति नामर्द हैं और वह मुझे कभी ख़ुशी नहीं देगा. मैंने  कहा हां. मैं तुम्हैं खुश कर दूंगा।

फिर उसने कहा की मैं उसके साथ रहूंगी लेकिन मैं तुम्हारी पत्नी रहूंगी. तुम चाहैं तब मुझे चोद लेना. और मेरी चूत को शांत कर देना। मैंने  उसकी नाईटी उतार दी और नंगी कर दी।

मैंने   कहा की तुम्हारी जवानी तो मस्त हैं। तो उसने कहा की तुम लुट लो मेरी जवानी। मैंने  ७ महीने से लंड नहीं देखा हैं आज मुझे शांत कर दो। मैं उसके बूब्स चूसने लगा उसके बूब्स बहुत बड़े थे और मैं उनको मसलता रहा और चुसता रहा।

फिर मैंने  उनकी चूत पर हाथ रखा और उनकी चूत काफी चिकनी थी और उनकी चूत कुवारी लग रही थी. मैंने  एक उंगली उनकी चूत मैं डाल दी और उनके मुह से आह निकली. उनकी चूत काफी टाईट थी. मैंने  फिर उनकी टाँगे फैलाई और अपना मुह उनकी च्चुत पर रखा और चाटने लगा।

मुझे बुहत मजा आ रहा था और उनकी चूत से मस्त महक आ रही थी. मैं तक़रीबन उनकी चूत को 26 मिनिट चाटता रहा. फिर मैं ऊपर उठा और अपना लंड उनके सामने रखा. उन्होंने मेरा लंड मुह मैं लिया और चूसने लगी. उसने फिर कहा की तुम्हारा लंड तो बहुत बड़ा हैं यह तो मेरी चूत फाड़ देगा।
उसने करिबन मेरा लंड 11 मिनिट चूसा और फिर मैंने  उसको कहा की तुम्हैं लड़की चाहिए की लड़का? उसने कहा की बेटा मैंने  कहा ओके। उसके बाद उसने कहा की अब मेरे अंदर डाल दो। मैं उनके टांगो के बिच मैं गया और उनको फैलाया और लंड को चूत पर मसलने लगा।

वो पागल हो रही थी और लंड को अंदर लेना चाहती थी. फिर मैंने  अपने लंड पर प्रेस डाला तो आधा लंड उसकी चूत मैं चला गया और वह चीखने लगी आह्ह उऔउ राम मैं मर गयी। तुम्हारा लंड तो गधे जैसा हैं. मैंने  एक और ज़टका मारा और वह तडपने लगी।

उसके मुह से अहः उऔ हां ओह अहह औउ इई माँ की आवाजे आ रही थी. फिर मैंने  एक और ज़टका मारा तो मेरा पूरा लंड उसकी चूत को चीरता हुआ अंदर चला गया उसकी आँखों से आसू आने लगे. मैंने  लंड अंदर ही रखा।

थोड़ी देर बाद मुझे लगा की अब वह थोडा शांत हो गयी हैं तो लंड को अंदर बहार करना शुरू कर दिया उसको बहुत दर्द हो रहा था. मुझे उसकी चींखे सुन कर बहुत मजा आ रहा था और मैंने  अपने जटको की स्पीड बढ़ा दी। हर जटके से उनके मुह से दर्द भरी आह निकलती थी।

फिर मैंने  मौसी को घोड़ी बनाया और पीछे से चूत मैं लंड डाल दिया. इस बार लंड एक ज़टके मैं अंदर चला गया और मौसी के मुह से आआया मर गयी निकल गयी। मौसी ने कहा अब मुझे धीरे धीरे चोदो. तुम्हारा लंड बहुत बड़ा हैं मैंने  उसे कहा की अब तुम्हैं इस लंड की आदत पद जाएगी और तुम्हैं भी बहुत मजा आएगा और मैं उसकी चूत को 20 मिनिट तक मारता रहा।
फिर मैंने  उसे कहा की मैं तुम्हारी गांड मरना चाहता हु तो उसने मना किया और कहा अभी ने बहुत थक गयी हु. फिर कभी मेरी गांड मार लेना। मैंने  ओके कहा और चूत को चोदता रहा. करीब ५ मिनिट बाद मैं जड़ गया और मैंने  अपना सारा पानी उसकी चूत मैं ही डाल दिया।

फिर मैं लेट गया और वो मेरे पास लेट गयी. हम दोनों बिलकुल नंगे थे और हम दोनों ऐसे ही सो गये। कल सुबह जब मैं उठा तो मौसी पहले से उठी हुइ थी।

One Comment

Add a Comment

Your email address will not be published.

loading...