loading...

“चाचा की बेटी के साथ चुदाई”

Antarvasna sex stories, desi kahani, hindi sex stories, chudai ki kahani, sex kahani 
दोस्तों ये घटना सच्ची है पर आप सभी को बस मनोरंजन के लिए बता रहा हूँ ये कहानी मेरी चचेरी बहन की चुदाई की है उसे उसके कॉलेज के टीचर नें खूब चोदा बस यही बतानी है मित्रो मै पहली बार कुछ लिख रहा हु अगर कोई गलती हो माफ़ कर देना | जब में 12वीं क्लास में पढ़ता था| में जम्मू का रहनें वाला हूँ और मेरी एक चचेरी थी.. जिसका नाम जया था.. वो बहुत ही खूबसूरत और सेक्सी है | और वो मुझसे एक क्लास नीचे पढ़ती थी| हम दोनों दोस्त की तरह बहुत फ्रेंक थे.. |
वो मेरे घर से 5 मिनट कि दूरी पर रहती थी| एक दिन उसनें मुझे फोन किया तो वो रो रही थी.. कहनें लगी कि भैया में बहुत प्रोब्लम में फंस गई हूँ.. प्लीज़ मेरी हेल्प करो| फिर मैंनें पूछा कि क्या हुआ? तो उसनें मुझे घर पर आनें को कहा| में तुरंत उसके घर गया.. तो घर में उसके अलावा कोई नहीं था| फिर में उसके रूम में गया और वो मुझे देखकर रोनें लगी| फिर मैंनें पूछा कि क्या हुआ? लेकिन वो बता नहीं पा रही थी| फिर मेरे फोर्स करनें पर बतानें को राज़ी हुई और वो बोली कि उसकी चूत से बहुत खून निकल रहा है और बोली कि मुझे डॉक्टर के पास ले चलो.. पहले तो मुझे लगा कि पीरियड की प्रोब्लम है| फिर उसनें मुझे अपनी एक सलवार दिखाई.. |
जो खून से पूरी लाल थी| फिर में समझ गया कि सेक्स की वजह से हुआ है.. में जल्दी से पापा की बाइक लेकर आया और थोड़ी दूरी पर ही एक लेडी डॉक्टर के पास ले गया| पहले कुछ चेकअप किया और फिर डॉक्टर नें मुझे बहुत भला बुरा सुनाया और मैंनें चुपचाप सुन लिया| फिर एक इंजेक्शन और कुछ दवाई लिखकर दी| हम दोनों वहां से निकले और मेडिसिन खरीदकर घर आ गये.. इंजेक्शन की वजह से उसका दर्द थोड़ा कम हो गया था और पता चला कि उसके मम्मी पापा बाहर गये हुये थे.. दोस्तों आप ये कहानी अन्तर्वासना पोर्न स्टोरीज डॉट कॉम पर पढ़ रहे है | तो शाम को आयेंगे| फिर मैंनें पूछा कि यह सब कैसे हुआ? तो उसनें पूरी तरह से बात बताई और हम दोनों बहुत ज्यादा फ्रेंक थे.. तो उसे बतानें में तकलीफ़ नहीं हुई| उसनें बताया कि मेरे फिज़िक्स टीचर की वजह से यह सब हुआ है.. हमारे एरिया में उससे अच्छा टीचर कोई नहीं है.. इसलिये पापा नें मेरी उसके पास कोचिंग लगा रखी है| कुछ दिन पहले से वो मुझे घर पर अलग से पढ़ानें के लिये बुलाता था| उसकी उम्र 45 साल के ऊपर होगी.. इसलिये मम्मी पापा बेफिक्र होकर भेज देते थे.. |
वो दोपहर 2 बजे के बाद मुझे बुलाते थे| उसकी बीवी सो जाती थी और वो मुझे ऊपर के कमरे मे ले जाकर पढ़ाते थे.. में भी बहुत खुश थी कि सर मुझे इतना टाईम देते थे.. लेकिन कुछ दिन बाद वो बार बार मेरी पीठ पर हाथ रखते तो मुझे थोड़ा बुरा लगता था.. लेकिन वो मुझसे इतनें बड़े थे.. तो मैंनें कुछ ज्यादा ध्यान नहीं दिया| एक दिन उनके घर पर कोई नहीं था और जब में गई तो उसनें मुझे कहा कि बहुत सर दर्द कर रहा है| फिर मैंनें कहा कि फिर में आज चली जाती हूँ.. कल आ जाउंगी| उसनें कहा कि नहीं.. मेरे पास थोड़ी देर बैठो और वो बिस्तर पर सोये हुये थे.. में उनके पास बैठ गई| फिर उन्होंनें कहा कि थोड़ा सर दबा दो और में कुछ करती उससे पहले ही उन्होंनें मेरी गोद पर अपना सर रख दिया और में चौक गई.. लेकिन में कुछ कह नहीं पाई| फिर मैंनें सर दबाना शुरू किया.. तो वो बार बार मेरे बूब्स पर धक्का दे रहे थे.. मुझे बहुत अजीब सा लग रहा था.. लेकिन में चुप रही.. क्योंकि में सर से बहुत डरती थी| फिर अचानक उन्होंनें मुझे उठकर पकड़ लिया और मुझे बिस्तर पर लेटा दिया.. में डर गई और वो मुझे किस करनें लगे.. |

मै कुछ कहती कि उससे पहले उन्होंनें कहा कि चुपचाप लेटी रहो.. वरना बहुत बुरा होगा और वो मेरे होठों को चूसते रहे| कुछ देर किस करते करते मेरे होंठो को दाँत से दबाया और मेरे होंठ से खून निकल आया| फिर वो खून भी चूस के पी गये| फिर उन्होंनें मेरे बूब्स को दबाना शुरू किया और टी-शर्ट के ऊपर से ही इतना ज़ोर ज़ोर से दबा रहे थे कि मेरी जान निकले जा रही थी.. भूखे जानवर की तरह वो मेरे बूब्स को दबा रहे थे और टी-शर्ट के ऊपर से दाँत से भी काट रहे थे| 20-25 मिनट तक उन्होंनें मेरे बूब्स को पागलों की तरह दबानें के बाद मुझे ड्रेस उतारनें को कहा.. तो में रोनें लगी और कहा कि मुझे घर जाना है और बहुत तेज रोनें लगी| फिर उन्होंनें मुझे छोड़ दिया और में घर आ गई| डर की वजह से माँ को कुछ नहीं बता पाई और अंदर जाकर टी-शर्ट उतारकर देखा.. तो में खुद डर गई थी और मेरी पूरी छाती लाल हो गई थी और इतना दर्द हो रहा था कि क्या बताऊँ? में टच भी नहीं कर पा रही थी.. ड्रेस पहनते वक़्त थोड़ा सा भी हाथ लग जाये.. तो जान निकले जा रही थी| फिर में दो दिन कोचिंग नहीं गई और माँ से बोला कि तबीयत ख़राब है| दोस्तों आप ये कहानी अन्तर्वासना पोर्न स्टोरीज डॉट कॉम पर पढ़ रहे है | फिर टीचर नें माँ को फोन किया और माँ को डाटा और कहा कि कल से कोचिंग भेज देना.. |

तो माँ नें मुझे अंदर आकर बहुत डाटा और कल से कोचिंग जानें के लिये कहा| फिर मैंनें कहा कि मुझे सबके साथ पढ़ना है.. में अकेले में नहीं जाउंगी| माँ और भी गुस्सा हो गई और कहा कि सर तुम्हारा कितना ख्याल रखते है और तुम्हे कोई चिंता नहीं है.. तुम कल से अकेले ही जाओगी| फिर मुझे बहुत डर लगनें लगा| अगले दिन माँ मुझे सर के घर छोड़कर आई.. उस दिन में सलवार पहनें हुये थी| सर मुझे पढाते वक़्त बहुत बुरी तरह से देख रहे थे.. में कुर्सी पर बैठ के कुछ लिख रही थी कि अचानक वो मेरे पीछे से आकर मेरे बूब्स पर हाथ फेरना शुरू कर दिया और मेरे बूब्स पर अभी भी दर्द था| फिर मैंनें कहा कि सर मुझे दर्द हो रहा है..|
तो वो मुझे ऊपर के छोटे कमरे में ले गये.. वहां एक छोटा सा बेड था| मुझे बहुत डर लग रहा था| फिर उन्होंनें दरवाजा बंद करके मेरे सलवार की चैन खोल ड़ी और सलवार खींचनें लगे.. में मना करनें लगी.. |

loading...

पर उन्होंनें नहीं सुना और एक थप्पड़ लगाया.. तो में चुप हो गई और मेरा सलवार उतार दिया और फिर ब्रा भी| फिर मुझे बेड पर लेटाया और वो मेरे ऊपर आ गये| फिर वो मेरे बूब्स को चूसनें लगे.. जैसे तो मानो मेरे बूब्स को खींचकर उखाड़ देंगे.. इतनें ज़ोर ज़ोर से चूस रहे थे और कभी कभी दाँत से भी दबा रहे थे| फिर 15 मिनट तक उन्होंनें मेरे बूब्स को दबाया चूसा और चाटा| फिर उन्होंनें अपना पज़ामा उतारा और उनका लंड ओह्ह गॉड में देखकर डर गई.. 8 इंच का होगा और बहुत मोटा था| फिर मैंनें कहा कि में सेक्स नहीं कर सकती.. तो वो ज़बरदस्ती करनें लगे|
मैंनें कहा कि में चिल्लाउंगी| फिर उन्होंनें कहा कि फिर तो मुँह में ले ले| मैंनें मना किया.. लेकिन वो जबरदस्ती करनें लगे| फिर थोड़ी देर बाद मैंनें बहुत तकलीफ़ से मुँह मे लिया| मैंनें सिर्फ़ अपनें बॉयफ्रेंड का लंड 2 बार मुँह में लिया था.. लेकिन उसका लंड इससे बहुत छोटा था| फिर उन्होंनें कहा कि ज़ोर ज़ोर से चूस मज़ा नहीं आ रहा है तो में जोर से चूसनें लगी| फिर वो मेरे मुँह पर ही झटके मार रहे थे| मे साँस भी नहीं ले पा रही थी.. उन्होंनें मुझे 8-10 मिनट चुसवाया और मुँह पर पूरा माल निकाल दिया| फिर मैंनें उल्टी कर दी.. इतनी बुरी स्मेल और टेस्ट था| फिर में मुँह धोकर घर चली गई.. ऐसे वो मेरे साथ रोज करनें लगे|

एक दिन उन्होंनें मेरे कुछ नंगे फोटो लिये और कहा कि अगर सेक्स नहीं करनें दिया तो वो सबको दिखा देगें और में मान गई| फिर आज घर पर कोई नहीं था.. तो वो मेरे घर आये थे और मेरे साथ सेक्स किया| में वर्जिन थी तो उन्होंनें इतनी बुरी तरह से मुझे चोदा कि में बेहोश हो गई थी| फिर होश आनें के बाद उन्होंनें मुझे फिर चोदा.. वो बस बार बार अपनें लंड पर तेल लगा रहे थे और चोद रहे थे| आज सुबह से उन्होंनें मुझे 7 बार चोदा है और लास्ट बार जब में चूत में और नहीं ले पा रही थी.. तो उन्होंनें मेरी गांड पर तेल लगाकर.. गांड भी मारी| इतना दर्द हुआ कि में ठीक से बैठ भी नहीं पा रही थी| डॉक्टर को मैंनें गांड के दर्द के बारे में नहीं बताया.. लेकिन इंजेक्शन देनें के बाद अब दर्द थोड़ा कम है |
अगर आप कोई सुझाव देना चाहते है तो मुझे ईमेल करना ना भूले | अगर मेरी सच्ची बाते आपको पसंद आई तो अपनें दोस्तों से शेयर करना ना भूले |

mami1234@gnail.com

loading...